{30+} Satya Anmol Vachan in Hindi | सत्य अनमोल वचन

Satya Anmol Vachan in Hindi
_Satya Anmol Vachan

Satya Anmol Vachan in Hindi: प्रणाम! आप सभी को और एक खूबसूरत पोस्ट में स्वागत है. इस लेख में हम आपके लिए 30+ Satya Vachan in Hindi लेकर आए है. जो आपको एकबार जरूर पढ़ना चाहिए। इन सत्य वचन को आप आसानी से कॉपी भी कर सकते है और शेयर कर सकते है।


सत्य अनमोल वचन

Satya Anmol Vachan in Hindi
_Satya Anmol Vachan

हम अगर सत्य से छुपते हैं तो
इसका अर्थ है कि हम अवश्य ही
असत्य की संगत कर रहे हैं!


बारिश की बूँदें भले ही छोटी हों,
लेकिन उनका लगातार बरसना
बड़ी नदियों का बहाव बन जाता है,
वैसे ही हमारे छोटे छोटे प्रयास भी
जिंदगी में बड़ा परिवर्तन ला सकते हैं।


नियत और सोच अच्छी रखिए,
बात तो सब अच्छी कर लेते हैं।


मुस्कुराते रहोगे तो दुनिया साथ हैं,
वरना आँसुओ को तो आंखे
भी जगह नही देती है।


पत्थर भले ही आखरी चोट से टूटता है
परंतु पहली चोट कभी व्यर्थ नही जाती।


Satya Anmol Vachan in Hindi
_Satya Anmol Vachan

जब इंसान की जरूरत
बदल जाती है,
तब इंसान के बात करने का
तरीका भी बदल जाता है।


खुशियाँ चाहे किसीके
साथ भी बाँट लो,
लेकिन गम भरोसेमंद के
साथ ही बाँटना चाहिए।


कुछ लोग चप्पल जैसे होते हैं
साथ तो देते हैं, पर पीछे से
कीचड़ उछालते रहते हैं।


रिश्ते खून के नहीं होते
विश्वास के होते हैं,
अगर विश्वास हो तो
पराये भी अपने हो जाते हैं।


कभी गिर जाओ तो खुद
ही उठ जाना, क्यूंकी
लोग सिर्फ गिरे हुए पैसे
उठाते है इंसान नहीं।


Satya Anmol Vachan In Hindi

Satya Anmol Vachan in Hindi
_Satya Anmol Vachan

कर्म करो तो फल मिलता है,
आज नहीं तो कल मिलता है,
जितना गहरा अधिक हो कुआँ,
उतना मीठा जल मिलता है!


झूठ को ही अत्यधिक शब्दो की
आवश्कता होती है क्योंकि सत्य को स्पष्ट
शब्दो मे कहा जा सकता है।


लोग बहुत अच्छे होते है,
अगर हमारा वक्त अच्छा हो तो।


हकीकत को तलाश
करना पड़ता है,
अफवाहें तो घर बैठे
आप तक पहुँच जाती है।


संभाल कर रखी हुई
चीज और ध्यान से सुनी हुई बात,
कभी न कभी काम आ ही जाती है।


Satya Anmol Vachan in Hindi
_Satya Anmol Vachan

हारे हुए की सलाह
जीते हुए का अनुभव
और स्वयं की बुद्धि
इंसान को कभी हारने नहीं देते हैं।


गुस्से के वक़्त थोड़ा रुक जाने से,
और गलती के वक़्त थोड़ा झुक जाने से,
ज़िन्दगी आसान हो जाती है।


जिन रिश्तों में आपकी
मौजूदगी का कोई मतलब
नही हो वहाँ से मुस्कुरा
के चले जाना ही बेहतर होता है।


अपने अंदर के छोटे-छोटे
कमियों को सुधार लीजिये,
क्योंकि एक छोटा सा
छेद ही समुंद्री जहाज
के डूबने का कारण बन जाता है।


मीठा झूठ बोलने से अच्छा है
कड़वा सच बोला जाए,
इससे आपको सच्चे दुश्मन जरूर मिलेंगे
लेकिन झूठे दोस्त नहीं।


कड़वे सत्य अनमोल वचन

Satya Anmol Vachan in Hindi
_Satya Anmol Vachan

रिश्तों की कदर भी
पैसो की तरह कीजिये,
जनाब दोनों को गाँवना बहुत
आसान है और कामना मुश्किल।


किसी अच्छे इंसान से कोई गलती हो तो
सहन कर लो क्योंकि मोती अगर कचरे में
भी गिर जाए तो भी कीमती रहता है।


न तो इतने कड़वे बनो की
कोई थूक दे और
न ही इतने मीठे बनों की
कोई निगल जाए।


पैर में लगने वाली चोट,
संभल कर चलना सिखाती है,
और मन में लगने वाली चोट,
संभल कर जीना सिखाती है।


कभी पीठ पीछे आपकी बात
चले तो घबराना मत क्योंकि
बात तो उन्हीं की होती है,
जिनमें कोई बात होती है।


Satya Anmol Vachan in Hindi
_Satya Anmol Vachan

शस्त्र केवल शरीर को
घायल कर सकते है,
किन्तु शब्द आत्मा को भी
घायल कर देते है।


आप कितने भी अच्छे क्यों ना हों,
ऐसा कभी नहीं होंगा की
आप से सब खुश हों।


हार को भी सहना सीखिए
क्योंकि हर रास्ते पर जीत नहीं
लिखी होती।


यदि आप स्वयं प्रसन्न है
तो जिंदगी उत्तम है,
यदि आपकी वजह से लोग प्रसन्न हैं,
तो जिंदगी सर्वोत्तम है।


समय के साथ हालात
बदल जाते हैं इसलिए
स्वयं को बदल लेना
ही बुद्धिमानी है।


झूठ किसी को भी
बर्दाश्त नहीं होता
लेकिन बोलते सब हैं।


Leave a Comment