{30+} Maa Shayari 2 Lines | माँ पर दो लाइन शायरी

Maa Shayari 2 Lines
Maa Shayari 2 Lines

Maa Shayari 2 Lines: दोस्तो माँ के बारे में शब्दो में बयां नही करा जा सकता. माँ तो दुनिया है जिसके बिना हम जिंदगी सोच भी नही सकते. माँ वो है जो अपने बच्चो के लिए अपनी जिंदगी को भी बलिदान दे देता है। माँ नहीं तो कुछ भी नही, दोस्तो इस लेख में हम “माँ” के ऊपर कुछ दो लाइन शायरी लेकर आए है जिसे आपको अपने माँ के साथ जरूर शेयर करना चाहिए।


Table of Contents

माँ पर दो लाइन शायरी

Maa Shayari 2 Lines
Maa Shayari 2 Lines

मांगने पर जहाँ पूरी हर मन्नत होती है,
माँ के पैरों में ही तो वो जन्नत होती है।


जो सब पर कृपा करे उसे ईश्वर कहते है,
जो ईश्वर को भी जन्म दें उसे मां कहते हैं।


इस दुनिया मे पैसो से सब कुछ मिलता है पर,
माँ जैसा प्यार कही नही मिलता।


इस दुनिया में मुझे उससे बहुत प्यार मिला है,
माँ के रूप में मुझे भगवान् का अवतार मिला है।


मेरी माँ आज भी अनपढ़ ही है,
रोटी एक मांगता हूँ लाकर दो देती है।


Maa Shayari 2 Lines
Maa Shayari 2 Lines

जनाब इस जीवन की किताब में,
सबसे हसीन पल मां का प्यार है।


उनके लिए हर मौसम बहार होता है,
जिनके हिस्से में माँ का प्यार होता है।


माँ खुद भूखी होती है, मुझे खिलाती है,
खुद दुःखी होती है, मुझे चेन की नींद सुलाती है।


एक दुनिया है जो समझाने से भी नहीं समझती,
एक माँ थी बिन बोले सब समझ जाती थी।


रूह के रिश्तो की यह गहराइयां तो देखिए,
चोट लगती है हमें और दर्द मां को होता है।


Maa Shayari 2 Lines

Maa Shayari 2 Lines
Maa Shayari 2 Lines

चलती फिरती आंखों से अजां देखी है,
मैंने जन्नत तो नहीं देखी लेकिन मां देखी है।


यूँ तो मैंने बुलन्दियों के हर ऊँचाई को छुआ,
जब माँ ने गोद में उठाया तो आसमान को छुआ।


ख़ुशी ने नाता मेरा उस दिन टूट गया,
जिस दिन माँ का साथ छुट गया।


मां कहती नहीं लेकिन सब कुछ समझती है,
दिल की और जुबां की दोनों भाषा समझती है।


उसके आँचल में मुझे बहुत सुकून मिलता है,
जिंदगी खुशनुमा लगती है जीने का जुनून मिलता है।


Maa Shayari 2 Lines
Maa Shayari 2 Lines

जब जब कागज पर लिखा मैंने मां का नाम,
कलम अदब से बोल उठी हो गए चारों धाम।


उसके अल्फाजों से एक अलग सा जूनून मिलता है,
सारे जहान में बस माँ की गोद में सुकून मिलता है।


मेरे होने की वजह मेरी माँ है, मेरी खुशी मेरी माँ है,
सबका अपना-अपना खुदा होता है, मेरे लिए तो खुदा मेरी माँ है।


माँ का रिश्ता कुछ ऐसा है, जो दिल में हर दम रहता है,
माँ तेरे उदास हो जाने पर, मेरा दिल भी रोता है।


ना आसमां होता ना जमीं होती,
अगर मां तुम ना होती।


Maa Ke Liye Shayari 2 Line

Maa Shayari 2 Lines
Maa Shayari 2 Lines

जिसने दी है जिंदगी और चलना सिखाया है,
वो माँ मेरी उस भगवान का साया है।


सब ने कहा अच्छे से जाना लेकिन
माँ ने कहा बेटा जल्दी घर आना।


दवा असर ना करे, तो नजर उतारती है,
माँ है जनाब, वो कहाँ हार मानती है।


आज फिर ठंडी रोटी खाई,
आज फिर माँ तेरी याद आई।‌‌


किसी को घर मिला, किसी के हिस्से में दुकान आई,
मैं घर में सबसे छोटा था, मेरे हिस्से में माँ आई।


Maa Shayari 2 Lines
Maa Shayari 2 Lines

वो ही मेरी दौलत है और वो ही मेरी शान है,
उसके क़दमों में ही तो मेरा सारा जहान है।


ऊपर जिसका अंत नहीं, उसे आसमां कहते है,
और इस दुनिया में जिसका अंत नहीं उसे माँ कहते है।


पूछता है जब कोई दुनिया में मोहबत है कहा,
मुस्कुरा देता हू तब याद आती है माँ।


कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती,
सब कुछ मिल जाता है पर, माँ नहीं मिलती।


मेरी तक़दीर में कभी कोई गम नही होता,
अगर तक़दीर लिखने का हक़, मेरी माँ को होता।


दवा असर ना करें तो नजर उतारती है,
माँ है जनाब, वो कहां हार मानती है।


Leave a Comment