50+ Best Chanakya Niti Quotes in Hindi | चाणक्य नीति जीवन जीने की

chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

Chanakya Niti Quotes in Hindi: चाणक्य भारतीय इतिहास में महत्वपूर्ण व्यक्ति थे जो आर्थिक और राजनीतिक विचारधारा के महान शिक्षागुरु थे। वे भारतीय साम्राज्य मौर्य सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य के मंत्री और उनके आचार्य थे। चाणक्य का असली नाम विष्णुगुप्त था, और वे विशेष रूप से अपनी शिक्षा, राजनीतिक दक्षता, और राजनीतिक नीतियों के लिए प्रसिद्ध हैं। उनका योगदान भारतीय राजनीति और राजशास्त्र में अद्वितीय है।
उनकी नीति और विचार सामाजिक और राजनीतिक स्थितियों में बुद्धिमानी, योजना, और कौशल को बढ़ावा देने के लिए जानी जाती हैं और आज भी उनके उपदेशों का महत्व है। आज हम इस लेख में चाणक्य नीति, Chanakya Niti Quotes in Hindi आपके साथ साझा करने जा रहे जो आपको नीचे देखने को मिल जायेंगे।

Acharya Chanakya Quotes In Hindi

chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“सबसे बड़ा गुरु मंत्र, अपने राज किसी को भी मत बताओ। ये तुम्हे खत्म कर देगा।”

— आचार्य चाणक्य

“ईश्वर मूर्तियों में नहीं है, आपकी भावनाएँ ही आपका ईश्वर है, आत्मा आपका मंदिर है।”

— आचार्य चाणक्य

“जो गुजर गया उसकी चिंता नहीं करनी चाहिए, ना ही भविष्य के बारे में चिंतिंत होना चाहिए।”

— आचार्य चाणक्य

“जैसा शेर कभी हिंसा नहीं छोड़ सकता,वैसे ही दुष्ट इंसान भी कभी अपना स्वभाव नहीं छोड़ सकता!”

— आचार्य चाणक्य

“इतिहास गवाह हैं की, जितना नुकसान हमें दुर्जनो की दुर्जनता से नहीं हुआ, उससे ज्यादा सज्जनों की निष्क्रियता से हुआ।”

— आचार्य चाणक्य
chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“आग में आग नहीं डालनी चाहिए, अर्थात क्रोधी व्यक्ति को अधिक क्रोध नहीं दिलाना चाहिए।”

— आचार्य चाणक्य

“वो जिसका ज्ञान बस किताबों तक सीमित है और जिसका धन दूसरों के कब्ज़े मैं है, वो ज़रुरत पड़ने पर ना अपना ज्ञान प्रयोग कर सकता है ना धन।”

— आचार्य चाणक्य

“क्रोध में बोला एक कठोर शब्द इतना जहरीला हो सकता है, जो सामने वाले के मन मे आपकी हजार प्यारी बातों को, एक मिनट में नष्ट कर सकता है।”

— आचार्य चाणक्य

“धर्म समाज द्वारा निर्मित है, धर्म से ही नीतिशास्त्र का जन्म हुआ है।”

— आचार्य चाणक्य

“दुनिया में सबसे आसान काम है विश्वास खोना, कठिन काम है विश्वास पाना, और उससे भी कठिन है विश्वास को बनाए रखना।”

— आचार्य चाणक्य

चाणक्य नीति सुविचार

chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“तुम समय को रोक नहीं सकते, परंतु समय को बर्बाद ना करना सदैव तुम्हारे नियंत्रण में ही है।”

— आचार्य चाणक्य

“जैसे मछली दृष्टी से, कछुआ ध्यान देकर और पंछी स्पर्श करके अपने बच्चो को पालते है, वैसे ही संतजन पुरुषों की संगती मनुष्य का पालन पोषण करती है।”

— आचार्य चाणक्य

“सांप के फन, मक्खी के मुख और बिच्छु के डंक में ज़हर होता है, पर दुष्ट व्यक्ति तो इससे भरा होता है।”

— आचार्य चाणक्य

“जिस तरह गाय का बछड़ा हजारो गायो में अपनी माँ के पीछे जाता है, उसी तरह मनुष्य के कर्म भी मनुष्य के ही पीछे जाते है।”

— आचार्य चाणक्य

“यदि खुद कुबेर भी अपनी आय से अधिक खर्च करने लगे,तो वह एक दिन निर्धन हो जायेगा।”

— आचार्य चाणक्य
chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“जो व्यक्ति अपनी गलतियों के लिए अपने आप से लड़ता है, उसको कोई नहीं हरा सकता।”

— आचार्य चाणक्य

“जैसे ही भय निकट आए, उस पर आक्रमण करो और उसे नष्ट कर दो।”

— आचार्य चाणक्य

“सोने के साथ मिलकर चांदी भी सोने जैसी दिखाई पड़ती है अर्थात सत्संग का प्रभाव मनुष्य पर अवश्य पड़ता है।”

— आचार्य चाणक्य

“झुकना बहुत अच्छी बात है नम्रता की पहचान होती है, मगर आत्मसम्मान को खोकर झुकना खुद को खोने जैसा है।”

— आचार्य चाणक्य

“अहंकार उसी को होता है, जिसे बिना मेहनत के सब कुछ मिल जाता है, मेहनत से सुख प्राप्त करने वाला व्यक्ति, दूसरों की मेहनत का भी सम्मान करता है।”

— आचार्य चाणक्य

चाणक्य विचार इन हिंदी

chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“एक फूल की खुशबू केबल हवा की दिशा में फैलता है, लेकिन एक अच्छे इंसान की गुणवत्ता सभी दिशाओं में फैलता है।”

— आचार्य चाणक्य

“एक समझदार आदमी को सारस की तरह होश से काम लेना चाहिए और जगह, वक्त और अपनी योग्यता को समझते हुए अपने कार्य को सिद्ध करना चाहिए।”

— आचार्य चाणक्य

“कभी भी उनसे मित्रता मत कीजिये जो आपसे कम या ज्यादा प्रतिष्ठा के हों। ऐसी मित्रता कभी आपको ख़ुशी नहीं देगी।”

— आचार्य चाणक्य

“दुनिया भर की टेंशन छोड़ो लक्ष्य तय करो और उसके लिए बेफिक्र होकर काम करो।”

— आचार्य चाणक्य

“एक आदमी जो सबसे बड़ी गलती कर सकता है, वह यह सोचना है कि वह कमजोर है।”

— आचार्य चाणक्य
chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“जीवन में आगे बढ़ना है तो,बहरे हो जाओ क्योंकि अधिकतर लोगों कि बातें मनोबल गिराने वाली होती है।”

— आचार्य चाणक्य

“जो बुरे वक्त में आपका साथ देने की बजाय कमियां गिनाने लग जाए तो समझ जाना, उससे ज्यादा मतलबी इंसान कोई हो ही नहीं सकता।”

— आचार्य चाणक्य

“जीवन की हर सुबह कुछ शर्तें लेकर आती है, और जीवन की हर शाम कुछ अनुभव देकर जाती है।”

— आचार्य चाणक्य

“भाग्यशाली वो नही होते जिन्हें सब कुछ मिलता है, बल्कि वो होता है जिन्हे जो मिलता है, उसे वो अच्छा बना लेता है।”

— आचार्य चाणक्य

“ये मत सोचो की प्यार और लगाव एक ही चीज है, दोनों एक दूसरे के दुश्मन हैं, ये लगाव ही है जो प्यार को खत्म कर देता है।”

— आचार्य चाणक्य

चाणक्य के विचार | Chanakya Niti Quotes in Hindi

chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“पुस्तकें एक मुर्ख आदमी के लिए वैसे ही हैं, जैसे एक अंधे के लिए आइना।”

— आचार्य चाणक्य

“धर्म के नाम पर हिंसा करना मानवता के विरुद्ध है।”

— आचार्य चाणक्य

“यदि हम किसी विशेष कार्य अथवा योजना पर चिन्तन-मनन कर रहे हैं तो यह आवश्यक है कि उसके कार्यान्वित होने तक किसी अन्य के सामने उसे प्रकट न करें। ऐसा करने पर योजना के सफल होने में संदेह उत्पन्न होने की संभावना बनी रहती है।”

— आचार्य चाणक्य

“एक राजा की ताकत उसकी शक्तिशाली भुजाओं में होती है।, ब्राह्मण की ताकत उसके आध्यात्मिक ज्ञान में और एक औरत की ताक़त उसकी खूबसूरती, यौवन और मधुर वाणी में होती है।”

— आचार्य चाणक्य

“अपनी प्रशंसा से बचें, ये आपके अंदर की अच्छाइयों को घुन की तरह खा जाती है।”

— आचार्य चाणक्य
chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“मूर्खों से अपनी तारीफ सुनने से अच्छा है कि आप किसी बुद्धिमान की डांट सुनें।”

— आचार्य चाणक्य

“आदमी अपने जन्म से नहीं अपने कर्मों से महान होता है।”

— आचार्य चाणक्य

“जिस प्रकार एक सूखे पेड़ को यदि आग लगा दी जाये तो वह पूरा जंगल जला देता है, उसी प्रकार एक पापी पुत्र पुरे परिवार बर्बाद कर देता है।”

— आचार्य चाणक्य

“इस धरती पर तीन रत्न है, अनाज, पानी और मीठे शब्द।मुर्ख लोग पत्थरो के टुकड़ों को ही रत्न समझते है।”

— आचार्य चाणक्य

“पहले निश्चय करिए, फिर कार्य आरम्भ करिए।”

— आचार्य चाणक्य

चाणक्य नीति के अनमोल वचन

chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“इच्छाएं मनुष्य को जीने नहीं देती, और मनुष्य इच्छाओं को कभी मरने नहीं देता।”

— आचार्य चाणक्य

“भूखा पेट, खाली जेब और झूठा प्रेम इंसान को जीवन में बहुत कुछ सीखा जाता है।”

— आचार्य चाणक्य

“किसी भी कार्य में पल भर का भी विलम्ब ना करें।”

— आचार्य चाणक्य

“जब जीवन के बारे में सोचो तब यह सदैव याद रखना कि, पछतावा अतीत बदल नहीं सकता, और चिंता भविष्य को सवार नहीं सकती, एकाग्रता से किया गया परिश्रम ही वास्तविक चमत्कार करता है।”

— आचार्य चाणक्य

“शिक्षा इंसान का सबसे अच्छा दोस्त है, एक शिक्षित इंसान हर जगह सम्मान पाता है, शिक्षा सुन्दरता को भी पराजित कर सकती है।”

— आचार्य चाणक्य
chanakya niti quotes in hindi, Chanakya Quotes in Hindi, चाणक्य नीति सुविचार
chanakya niti quotes in hindi

“हारे हुए की सलाह जीते हुए का अनुभव और खुद का दिमाग इंसान को कभी हारने नहीं देता है।”

— आचार्य चाणक्य

“जब आप किसी काम की शुरुआत करें, तो असफलता से मत डरें और उस काम को ना छोड़ें, जो लोग ईमानदारी से काम करते हैं वो सबसे प्रसन्न होते हैं।”

— आचार्य चाणक्य

“जो ज्ञान की खोज में है उसे सुख की खोज छोड़ देनी चाहिए और जो आनंद की खोज में है उसे ज्ञान की खोज छोड़ देनी चाहिए।”

— आचार्य चाणक्य

“भाग्य से जितनी ज्यादा उम्मीद करोगे वो उतना ही ज्यादा निराश करेगा और कर्मों पर जितना जोर दोगे। वो हमेशा उम्मीद से भी ज्यादा देगा।”

— आचार्य चाणक्य

“चिटी से मेहनत सीखो, बगुले से तरकीब, और मकड़ी से कारीगरी और अपने विकास के लिए अंतिम समय तक संघर्ष करो क्योंकि संघर्ष ही जीवन है।”

— आचार्य चाणक्य

“कोई काम शुरू करने से पहले, हमेशा अपने आप से तीन प्रश्न पूछें… मैं ऐसा क्यों कर रहा हूं, इसके परिणाम क्या हो सकते हैं और क्या मैं सफल हो पाऊँगा। जब आप गहराई से सोचते हैं और इन सवालों के संतोषजनक उत्तर पाते हैं, तभी आगे बढ़ें।”

— आचार्य चाणक्य

Leave a Comment