80+ Best Alone Shayari in Hindi | अकेलापन पर शायरी हिंदी में

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

Alone Shayari in Hindi: जिंदगी में कोई किसी का साथ नही देता हर कोई सिर्फ खुदका फायदा दिखता है। दोस्तो इस जहां में सभी कोई ना कोई मतलब से ही आपके साथ रहते है चाहे वो कोई भी हो, अगर आज आप खुश है तो आपके पास सभी रहेंगे जब आप पर दुख आयेगा तब आप खुदको एकला ही पाएंगे। इसलिए जीवन में एकला चलने का हुनर आना चाहिए और अपने आप पर गर्व होना चाहिए।
अगर आप अकेलापन पर शायरी (Alone Shayari in Hindi) पढ़ना चाहते है तो आपको इस लेख में स्वागत है उम्मीद है आपको पसंद आयेंगे।

Alone Shayari in Hindi

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया,
आपने तो दुनिया के कहने पर हमें भुला दिया,
हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनियां में,
क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया।

जानता पहले से था मैं,
लेकिन एहसास अब हो रहा है,
अकेला तो बहुत समय से हूं मैं,
पर महसूस अब हो रहा है।

हज़ारो बातें मिल कर एक राज़ बनता है,
सात सुरों के मिलने से साज़ बनता है,
आशिक़ के मरने पर कफ़न भी नहीं मिलता,
और हसीनाओ के मरने पर ताज़ बनता है।

तुम क्या जानो हम अपने आप
में कितने अकेले है,
पूछो इन रातो से जो रोज़ कहती है के
खुदा के लिए आज तो सो जाओ।

मुझको मेरे अकेलेपन से अब
शिकायत नहीं है,
मैं पत्थर हूँ मुझे
खुद से भी मुहब्बत नहीं है।

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

जिंदगी के ज़हर को यूँ पी रहे है,
तेरे प्यार के बिना यूँ जिंदगी जी रहे है,
अकेलेपन से तो अब डर नहीं लगता हमें,
तेरे जाने के बाद यूँ ही तन्हा जी रहे है।

मेरी आवाज उसे सुनाई नहीं देती,
अब तो कोई उम्मीद भी दिखाई नहीं देती,
एहसास उसे और सब लोगों का है,
बस मेरी ही तन्हाई उसे दिखाई नहीं देती।

ज़िंदगी जीते जीते अपनों से मिला मैं,
अपने छोड़ गए मुझे तनहा तो उस दिन
खुद से भी मिला मैं!

कोई भी सुनलेगा दर्द,
ये दुनियां अजनबियों का मेला है,
सहानुभूति वही दिखाएगा,
जो शक्स दर्द में अकेला है।

ना जाने क्यूँ खुद को अकेला सा पाया है,
हर एक रिश्ते में खुद को गँवाया है,
शायद कोई तो कमी है मेरे वजूद में,
तभी हर किसी ने हमें यूँ ही ठुकराया है।

जाने क्यों अकेले रहने को मज़बूर हो गए,
यादों के साये भी हमसे दूर हो गए,
हो गए तन्हा भरे महफ़िल में,
कि हमारे अपने भी हमसे दूर हो गए।

Sad Alone Shayari in Hindi

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

तन्हाई में चलते चलते
अब पैर लडखडा रहे हैं,
कभी साथ चलता था कोई,
अब अकेले चलें जा रहे हैं।

मेरी जंग थी वक्त के साथ,
फिर वक्त ने ऐसी चाल चली,
मैं अकेला होता गया।

चाहे जितना भी,
किसी को अपना बना लो,
वो एक दिन आपको,
गैर महसूस करा ही देते हैं।

चुभते हुए ख्वाबों से कह दो
अब आया ना करे,
हम तन्हा तसल्ली से रहते है
बेकार उलझाया ना करे।

आगोश में ले लो मुझे बहुत अकेला हूँ मैं,
बसा लो दिल की धड़कन में अकेला हूँ मैं,
जो तुम नहीं जिंदगी में तो फिर कुछ नहीं,
समा जाओ मुझमें, कि अकेला हूँ मैं।

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

जो कभी मेरी जिंदगी का
हिस्सा हुआ करते थे,
आज उन्हें मेरे अकेलेपन का
अहसास तक नहीं है।

आज परछाई से पूछ ही लिया मैंने,
क्यों चलते हो साथ मेरे,
साफ़ कह दिया उसने हंसके,
और कोई है साथ तेरे!

ए दिल, जिसके दिल में तेरे लिए
कोई जगह ही नहीं है,
वही तेरे लिए खास क्यों है।

ना आंसुओ से छलकते हैं,
ना कागज़ पर उतारते हैं,
दर्द कुछ होते हैं ऐसे जो
बस भीतर ही भीतर पालते है।

करली मैंने तन्हाई से दोस्ती
आज़मा के सारे सपने
भरोसा रख के देखा
फिर कोई काम ना आया।

Alone Shayari 2 Lines in Hindi

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

घिरा हुआ हूं लोगो से,
फिर भी अकेला हूँ मैं।

जिन्हें नींद नहीं आती उन्हीं को मालूम है,
सुबह आने में कितने जमाने लगते हैं।

मुसाफ़िर ही मुसाफ़िर हर तरफ़ हैं,
मगर हर शख़्स तन्हा जा रहा है।

क्या करेंगे महफिलों में हमे बता,
मेरा दिल रहता है काफिलों में अकेला।

तन्हाईयाँ कुछ इस तरह से डसने लगी हमें
हम आज अपने पैरों की आहट से डर गए।

तुम्हारे बगैर ये वक्त ये दिन और ये रात,
गुजर तो जाते हैं मगर गुजारे नहीं जाते।

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

दिल तो पहले होता था सीने में,
अब तो दर्द लिए फिरते है।

अजीब सी वेताबी रहती है तेरे बिना,
रह भी लेते हैं और रहा भी नहीं जाता।

ना जाने कैसी नज़र लगी है ज़माने की,
वजह ही नहीं मिल रही मुस्कुराने की।

कुछ कर गुजरने की चाह में कहाँ-कहाँ से गुजरे,
अकेले ही नजर आये हम जहाँ-जहाँ से गुजरे।

मेरी पलकों का अब नींद से कोई ताल्लुक नही रहा,
मेरा कौन है ये सोचने में रात गुज़र जाती है।

अकेलापन तन्हाई शायरी

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी

तेरी याद में ज़रा आँखें भिगो लूँ
उदास रात की तन्हाई में सो लूँ,
अकेले ग़म का बोझ अब संभलता नहीं,
अगर तू मिल जाये तो तुझसे लिपट कर रो लूँ।

लोग कहते है दुःख-दर्द बुरे होते है,
जब-जब आते है सिर्फ और सिर्फ रुलाते है,
मगर मैं कहता हु दुःख-दर्द अच्छे होते है,
जब जब आते है कुछ ना कुछ नया सिखात्ते है।

अजीब सा है मेरा अकेलापन,
अब ना किसी के आने की खुशी है
और ना किसी के जाने का डर।

जिंदगी में किसी के बिना
कुछ रुक तो नहीं जाता
लेकिन हां जिंदगी
अधूरी जरूर हो जाती है।

जिंदगी ख्वाहिशों का एक मेला है,
कहीं पर हार तो कहीं पर जीत का ये खेला है,
जो भी मिले उससे तुम मुस्कुरा कर मिला करो,
इस भीड़ में हर कोई ही अकेला है।

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी

अकेलेपन से सीखी है,
मगर बात सच्ची है,
दिखावे की नजदीकयों से
हकीकत की दूरियाँ अच्छी है।

हमे भूलने की वो बात करते हैं,
पूछो ज़रा हम कितना याद करते हैं,
चेहरे पे हँसी का दिखावा हैं,
मगर तन्हाई में आंसुओ से फरियाद करते हैं।

किसी को मोहब्बत की सच्चाई मार डालेगी,
किसी को प्यार की गहराई मार डालेगी,
करके मोहब्बत कोई नहीं बच पायेगा,
जो बच गया उसे भी तन्हाई मार डालेगी।

खुशियां ना जाने जिंदगी
से कहां खो गई,
तनहाई में रहने की अब हमें
आदत सी हो गई है।

कभी पहलू में आओ तो बताएँगे तुम्हें,
हाल-ए-दिल अपना तमाम सुनाएँगे तुम्हें,
काटी हैं अकेले कैसे हमने तन्हाई की रातें,
हर उस रात की तड़प दिखाएँगे तुम्हें।

इंतज़ार की आरज़ू अब खो गई है,
खामोशियों की आदत हो गई है,
ना शिकवा रहा ना शिकायत किसी से
अगर है तो एक मोहब्बत
जो इन तन्हाईयों से हो गई है।

उदासी अकेलापन शायरी

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी
Alone Shayari in Hindi

हम भी फूलों की तरह
अक्सर तनहा ही रहते हैं,
कभी खुद से टूट जाते है,
तो कभी कोई और तोड़ जाता है।

अब अकेले जिंदगी की राहों में,
तेरा कोइ काम नही,
खुद ही काट लेंगे गम ये जिंदगी,
अब तेरा इस दिल में कोइ काम नही।

वो सिलसिले वो शौक वो ग़ुरबत ना रही,
फिर यूँ हुआ के दर्द में सिद्दत ना रही,
अपनी जिंदगी में हो गये मशरूफ वो इतना,
कि हमको याद करने कि फुरसत ना रही।

बारिश की बूंदों के जैसा टपकता है
मेरी आंखों से पानी,
तन्हा हो जाती हूं हर पल जब आए
तेरी याद पुरानी।

तुझे पाना तुझे खोना,
तेरी ही याद मेँ रोना,
ये अगर इश्क है,
तो हम तनहा ही अच्छे है!

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी

तेरे इश्क की यादें मुझे
रोज सताती है, यह खामोश
तन्हाइयां मुझे बहुत डराती है!

बहुत सोचा बहुत समझा,
बहुत ही देर तक परखा,
कि तन्हा हो के जी लेना,
मोहब्बत से तो बेहतर है।

जब तोड़ना ही था तो रिश्ता जोड़ा क्यों,
खुशी नहीं दे सकते थे तो हमारा गम से
नाता जोड़ा क्यों।

दर्द मेरे दिल का किसने देखा है,
मुझे सिर्फ खुदा ने तड़पते देखा है,
हम तन्हाई में बैठकर रोते हैं,
महफ़िल में लोगों ने हमें हस्ते देखा है।

हम जैसे तन्हा लोगों का
अब रोना क्या मुसकाना क्या,
जब चाहने वाला कोई ना हो,
तो जीना क्या मर जाना क्या!

जो रिश्ते बड़ी खामोशी से टूट गए हैं,
उन रिश्तो के लिए
अब मैं शोर नहीं करूंगा।

अकेलापन शायरी इन हिंदी

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी

तन्हाई भी हम से तन्हा हो गयी,
मजबूरी भी हम से मजबूर हो गयी,
बचा क्या था अब जिंदगी में,
आखिर में मौत भी हम से बेवफ़ाई कर गयी।

मेरे अकेलेपन को मेरा शौख
ना समझो यारो,
बड़े ही प्यार से तोहफा दिया है
किसी चाहने वाले ने।

याद हैं हमको अपने तीनो गुनाह!
एक तो मोहबत कर ली,
दूसरा तुमसे कर ली और
तीसरा बेपनाह कर ली।

किस बात का बदला लिया है तुम ने,
मुझे अपना बना के इस तरह तनहा छोड़ा है,
की मैं अपना भी ना बन सका।

तुझसे दूर जाने के बाद
तन्हा तो हूँ लेकिन,
तसल्ली बस इतनी सी है,
अब कोई फरेब साथ नहीं।

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी

मैं अकेला ही भला हूँ,
किसी औऱ की उम्मीद नहीं करता,
तन्हाई रोज़ खुल कर जीता हूँ,
भीड़ से गुज़रने की जिद नहीं करता।

किसी ने दिल जीत लिया,
किसी ने दिल हारा था,
जो अकेला रह गया,
बस वो दिल हमारा था।

आज फिर मुझे वो ख़याल आया,
दर्द में मैंने जिसे अपने ज़ेहन में पाया,
तड़प उठी पाने को फिर से तकदीर अपनी,
होश आया तो फिर खुदको तुमसे जुदा पाया।

तन्हाई का एक ऐसा भी आलम है,
जो कुछ भी करने को मजबूर कर देता है,
ऊपरवाला भी ना जाने क्या चाहता है,
क्यों प्यार करने वालो को दूर कर देता है।

और क्या लिखूं,
अपनी जिंदगी के बारे में,
जो जिन्दगी हुआ करते थे
वो ही बिछड़ गये।

गुजर जाती है जिंदगी,
यूँ ही गुजर रहे हैं पल,
कोई हमसफ़र मिले ना मिले,
तू अकेला ही चल।

Zindagi Alone Shayari

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी

जिंदगी ही समझ में नहीं आती
बेवजह के झमेले में रहते है,
धोखा खाने से डरते है,
इसलिए आज भी अकेले रहते है।

मेरी एक ही ख्वाहिश थी
सबको साथ आगे लेकर जाने की,
बस यही एक वजह बनी
खुद अकेले ही पीछे रह जाने की।

सिर्फ दर्द ही मिला मुझे तेरे रहने से,
सुकून मिलता है मुझे अब अकेले रहने से।

मंज़िल की तलाश में किस्मत से लड़ता हूँ,
हाँ मैं अक्सर रास्तों पर तनहा चलता हूँ।

ज़िन्दगी यु हुई बसर तन्हा,
काफिला साथ और सफर तन्हा,
अपने साये से चौक जाते है,
उम्र गुजारी है इस कदर तन्हा।

alone shayari 2 lines in hindi, feeling alone shayari in hindi, alone shayari in hindi, जिंदगी में अकेलापन शायरी, अकेलापन शायरी इन हिंदी

जिन्दगी यु हुई बसर तन्हा,
काफिला साथ और सफर तन्हा,
अपने साये से चौक जाते है,
उम्र गुजारी है इस कदर तन्हा।

हमारी किस्मत हमें दगा दे गयी,
ज़िंदगी भर अकेले रहने की सज़ा दे गयी,
जिन्हें हमने जान से भी ज्यादा प्यार किया,
वही हमें हर पल मरने की सज़ा दे गए।

स्टेशन जैसी हो गई है जिंदगी,
जहाँ लोग तो बहुत है,
पर अपना कोई नहीं।

अक्सर अकेलेपन से वहीं गुजरता है,
जो ज़िंदगी में सही फैंसलों को चुनता है।

अकेलेपन का सुकून ही कुछ और है,
अपनी हर नाराजगी से लड़ लेता हूं
बिना खुद को छोड़े।

अकेलापन कोई कष्ट नहीं बल्कि
एक अवसर है बिना रुकावट
एक ही दिशा में सदैव बढ़ते रहने का।

Alone Shayari in Hindi Text

इस अकेलेपन में भी तुम्हारी
याद हर रोज आती है,
ना जाने कौन से लोन की किश्त हो तुम
जिसे भरे जा रहे हैं।

काश तू समझ सकती
मोहब्बत के उसूलों को,
किसी की साँसों में
समाकर उसे तन्हा नहीं करते।

जो लोग सिर्फ सच्चा प्यार करना जानते हैं,
उन्हें बस अकेलेपन का साथ मिलता है।

जहां महफ़िल सजी हो,
वह मेला होता है,
जिसका दिल टूटा हो,
वो तन्हा अकेला होता है।

नफ़रतों के शहर में अकेला सा हूँ मैं,
मुझे अच्छे लोगों कि नहीं,
अच्छे वक़्त कि तलाश है।

Leave a Comment